गजब इंडियन: मुकेश की आवाज के कायल थे लोग, जानिए उनकी जिंदगी से जुड़े बेहद शानदार किस्से

जिसकी आवाज की कायल थी ये पूरी दुनिया उस रुहानी आवाज के मालिक मुकेश का पूरा नाम ‘मुकेश चंद माथुर’ था। उन्होंने अपनी बेहतरीन गायकी से न सिर्फ गानों में जान डाली बल्कि असल जिंदगी में भी वह बेहद संवेदनशील रहे।

The Indian Express

मुकेश, रफी और किशोर

ये तो सभी जानते हैं कि भारतीय पार्श्व गायन में एक तिकड़ी बड़ी मशहूर है और वह तिकड़ी बिना मुकेश के पूरी नहीं होती। वह तिकड़ी है मुकेश, रफी और किशोर की।
 

मरते हुए में जान डालने वाली आवाज

मुकेश ने अपनी आवाज से लोगों को मरने से भी बचाया है। अस्पताल में कई दिनों से विस्तर पर पड़ी एक लड़की ने जब मुकेश से गाने सुनने की गुजारिश की तो मुकेश सब कुछ अस्पताल पहुंचे और गाना भी सुनाया। ये किस्सा अपने आप में सबूत है कि लोगों पर मुकेश के गानों का जादू किस कदर सवार था।

गाने का शौक बचपन

दस बच्चों में मुकेश छठे नंबर पर थे। मुकेश को गाने का शौक बचपन से ही था। स्कूल के दिनों में वो क्लास में भी अपने साथियों को गाने सुनाया करते थे। लेकिन मुकेश की आवाज की बुलंदी इतनी ऊंची थी कि क्लास में गाना गाने वाला वही बच्चा आगे चलकर करोड़ों लोगों के दिलों पर राज करने लगा।
 

लगभग उन्होंने डेढ़ हजार गाने गाए

अपने हुनर की बदौलत मुकेश कामयाबी के रास्ते पर बढ़ते चले गए। 1974 में मुकेश को रजनीगंधा फिल्म के गाने ‘कई बार यूं ही देखा है’ के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला। कहा जाता है कि लगभग उन्होंने डेढ़ हजार गाने गाए। ये संख्या बाकी गायकों के मुकाबले काफी कम है, लेकिन मुकेश ने अपने हर गाने को अपनी आवाज से हिट बनाया।
 
 

भाग कर की शादी

मुकेश की शादी की कहानी बड़ी रोचक है। उन्होंने सरल त्रिवेदी से शादी की। सरल काफी रईस परिवार से थीं और उस वक्त मुकेश संघर्षों से जूझ रहे थे। इसलिए सरल के पिताजी शादी के लिए राजी नहीं हुए। मुकेश और सरल ने दुनिया के दस्तूरों को तोड़ कर मुंबई में शादी रचा ली। उन्होंने मुंबई में कांदिवाली के मंदिर में 22 जुलाई 1946 को शादी कर ली। मुकेश तब 23 साल के थे।
 

हर सुपरस्टार की आवाज बने

मुकेश ने 200 से अधिक फिल्मों में अपनी आवाज दी। मुकेश हर सुपरस्टार की आवाज बने। उनके गाए हुए गानों के लब्ज इतने बेहतरीन थे कि आज भी कई सिंगर उनके गानों को अपनी आवाज देते हैं और रीमिक्स बनाते हैं।

Leave a Reply