गजब दर्शन: बेहद खूबसूरत अपनी ‘जैव विविधता’ के लिए प्रसिद्ध कुल्लू का ग्रेट हिमालयन National Park

ग्रेट हिमालयन National Park जवाहर लाल नेहरू ग्रेट हिमालयन पार्क के रूप में भी जाना जाता है, कुल्लू के प्रमुख पर्यटक आकर्षणों में से एक है। महान हिमालयी राष्ट्रीय उद्यान (जीएचएनपी) हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में है। विश्व विरासत समिति ने ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क संरक्षण क्षेत्र (जीएचएनपीसीए) को विश्व विरासत सूची में सम्मिलित किया है..

Maps of India6

विस्तृत विविधता का घर

50 वर्ग किमी का एक क्षेत्र में फैला, राष्ट्रीय पार्क 30 से अधिक स्तनधारियों और पक्षियों की 300 से अधिक प्रजातियों सहित वनस्पतियों और पशुवर्ग की प्रजातियों की एक विस्तृत विविधता का घर है। यह विशेष रूप से पश्चिमी ट्रैगोपैन, पक्षियों की अत्यधिक लुप्तप्राय प्रजाति, के पार्क के जंगलों में रहने के लिए जाना जाता है।

पश्चिमी हिमालय क्षेत्र

यह पार्क, कँवर वन्यजीव अभयारण्य, रूपी भाभा अभयारण्य और पिन घाटी राष्ट्रीय उद्यान के साथ साथ, उत्तर भारत में पश्चिमी हिमालय क्षेत्र के सबसे बड़े पारिस्थितिकी प्रणाली क्षेत्र है जोकि अपेक्षाकृत अनछुये हैं।

इस पार्क की वनस्पति

भूरे भालू, औबेक्स, काले भालू, कस्तूरी मृग, हिम तेंदुए की दुर्लभ प्रजातियों, और हिमालयन थार जैसे पशुओं को यहाँ देखा जा सकता है। इस पार्क की वनस्पति में चंदवा वन, ओक जंगल, अल्पाइन झाड़ियाँ, उप अल्पाइन समुदायों, और अल्पाइन घास शामिल हैं।

कई फूलों की प्रजातियां

बैरबैरिस, इंडिगोफेरा, सारकोकोआ और वाईबर्नम क्षेत्र में देखी जाने वाली वनस्पति की अन्य प्रजातियां हैं। पार्क कई फूलों की प्रजातियों के लिए भी घर है जिनका सुगंधित और औषधीय गुणों के लिए उपयोग किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *