देवानंद पर लड़कियां कुछ ऐसे मरती थीं कि कोर्ट ने लगी दी थी ये रोक, कैसे पड़ गए सुरैया के प्यार में

26 सितंबर 1923 को बॉलीवुड के सबसे चमकते सितारे देवानंद का जन्म पंजाब के गुरदासपुर में एक मीडिल क्लास परिवार में हुआ था.
उनका वास्तविक नाम पिशोरीमल आनंद था. लाहौर से इंग्लिश में ग्रेजुएट देव आनंदने साल 1943 यानी 20 साल की उम्र में मुंबई का रूख किया था, तब जेब में उनके महज 30 रुपये थे. आइए जानते हैं बॉलीवुड पर राज करने वाले देवानंद के कुछ खास किस्से-

सुरैया-देव आनंद (फोटो-यूट्यू)

फैशन आइकन थें देवानंद, लड़कियां मरती थीं उनपर

देवानंद का अंदाज, कपड़े पहनने का सलीका और बातचीत का तरीका अपने दौर से काफी आगे थे. ये अंदाज उनके साथी एक्ट्रैस के साथ-साथ फैंस को भी लुभाता था. व्हाइट शर्ट और काले कोट में उनका चार्म इतना था कि देखते-देखते लोग इसे ‘नेशनल ड्रेस’ बनाने को तैयार थे, मतलब ये कि हर आदमी इस लुक को कॉपी करना चाहता था.

कोर्ट ने काला कोट पहनने पर लगा दी थी रोक

देवानंद के बारे में कुछ किस्से खासे मशहूर हैं. ऐसा ही एक किस्सा है कि काले कोट में वो इतने स्मार्ट और हैंडसम दिखते थे कि कुछ लड़कियों के खुदकुशी तक करने की घटना सामने आ गईं. हालांकि, इन घटनाओं की कोई पुष्टि नहीं है. लड़कियां उनपर इस कदर फिदा थी कि कोर्ट को संज्ञान लेना पड़ा औऱ देव आनंद को काला कोट पहनकर घूमने पर पाबंदी लग गई. हाल फिलहाल में ऐसा एक्टर और ऐसे फैंस किसी के पास भी नहीं हैं.

सुरैया के प्यार में दिल हार गए देवानंद

हजारों लड़कियां जिस देव आनंद की दीवानी थीं वो पहली ही नजर में अपना दिल अभिनेत्री सुरैया को दे बैठे थे. सुरैया से पहली मुलाकात में ही देव आनंद ने पूछ लिया कि आप मुझे किस नाम से पुकारेंगी. ऐसे में सुरैया ने नजर झुकाकर तपाक से जवाब दिया- ”देव अच्छा नाम है”.

बता दें कि दोनों की नजरें पहली बार विद्या फिल्म के सेट पर चार हुईं थी फिर मुलाकातों का दौर चलता रहा. देव आनंद ने कई बार खुलेआम सुरैया के सामने अपने इश्क का इजहार भी कर दिया था. कहा जाता है कि सुरैया भी मन ही मन अपना दिल देवानंद को दे बैठीं थी.

प्यार मुकम्मल न हो सका

सुरैया-देव आनंद का रिश्ता सुरैया के परिवारवालों को पसंद नहीं था क्योंकि बीच में धर्म की दीवार जो खड़ी थी. ऐसे में दोनों का प्यार मुकम्मल नहीं हो सका और ये रिश्ता तो खत्म हो गया लेकिन देव आनंद के दिल में हमेशा सुरैया के लिए चाहत रही. कई बार पब्लिकली देवानंद ने इस बात का इजहार किया कि वो सुरैया से मोहब्बत किया करते थे. बता दें कि 88 साल की उम्र में देवानंद का निधन हो गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *