ये हैं भारत के 5 सफल चाय 'Startup' जिन्होंने चाय को घर से कैफे में पहुंचा दिया

चाय यह ऐसा पेय पदार्थ है जिसे गरीब से लेकर अमीर आदमी तक पीता है। यानी यह हर तबके के बीच मशहूर है। ये वही चाय है जिसने एक मामूली से चाय वाले को इंटरनेट पर मशहूर कर दिया Startup और इसके बाद वो हीरो तक बन गया। आज हम आपको बताते हैं कि चाय ने भारत में कितनों के बिजनेस चमकाए हैं।
startup
चाय आपके घर या ऑफिस के पास भी मिलती होगी, लेकिन भारत में कॉफी हाउस की तरह चाय स्टोर भी बड़े जोरों-शोरों से चल रहे हैं और लोग इसे बेहद पसंद कर रहे हैं। आइए आज हम आपको भारत की 5 बड़े चाय स्टार्ट ‘Startup’ अप के बारे में बताते हैं जिनके बारे में पढ़कर आपको इस बात का अंदाजा हो जाएगा कि एक आम चीज की अच्छी मार्केटिंग भी आपको बहुत फायदा पहुंचा सकती है।
 

टी-बॉक्स, startup

इसे शुरू किया था कौशल डूगर ने और इस कंपनी की चेन सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि यूएस में भी है। इसमें रतन टाटा ने भी इन्वेस्ट किया था। यह कंपनी हर साल लगभग $4।7 मिलियन का मुनाफा कमाती है। तो अगली बार जब आपके पेरेंट्स गुस्से में आकर आपसे कहें कि तुम चाय की टपरी ही लगा पाओगे, तो उन्हें इस कंपनी के बारे में बता देना।
 

चायोस

इस कंपनी को नितिन सलूजा और राघव वर्मा ने मिलकर बनाया। ये दोनों 2010 में मिले। राघव एक आईआईटी ग्रेजुएट हैं। यह कंपनी 2012 में शुरू हुई। इसे हर रोज लगभग 1,000 ऑर्डर मिलते हैं। यहां से चाय ऑनलाइन भी मंगाई जा सकती है। यहां पर इस बात का खास खयाल रखा जाता है कि हर किसी को अपने मनपसंद की चाय मिले और यही वजह है कि यहां आप चाय के अंदर कौन-कौन से मसाले डालने हैं ये खुद तय कर सकते हैं।
 

चाय ठेला

चाय ठेला नोएडा में है और इसे शुरू किया पंकज और नितिन ने मिलकर। इसको किसी आम चाय के ठेले के एक्सपीरियंस को ध्यान में रखकर शुरू किया गया लेकिन यहां लोगों को ताजी चाय ही परोसी जाती है। यह ज्यादातर आईटी पार्क और कॉलेज के आस-पास अपना स्टाल लगाते हैं। आप इसे चाय के ठेले के एक अपग्रेडेड वर्जन के रूप में देख सकते हैं।
 

टी पॉट

इसे रॉबिन झा ने 2013 में शुरू किया था। इसमें भी किसी बड़े बिजनेसमैन ने इन्वेस्ट किया था। यहां चाय के साथ-साथ गर्म नाश्ता भी परोसा जाता है। यहां पर गुड़हल की चाय से लेकर एक आम मसाला चाय भी मिलती है। हो सकता है अब धीरे-धीरे आपको यह लगने लगा हो कि कोई चाय स्टार्टअप शुरू कर देना चाहिए क्योंकि लोग रेस्टोरेंट में जाकर चाय पीना भी हद से ज्यादा पसंद करते हैं।
 

चाय गरम

ये भारत की सबसे पुरानी चाय कंपनी में से एक है और इसे शुरू किया मेघना नरसाना। यह ऐसे कैफे हैं जो वोर्किंग क्लास को कम पैसों में अच्छी चाय परोसते हैं। यहां पर भी चाय हाथ से ही बनाई जाती है। इसे 2009 में शुरू किया गया। यहां पर करीब 20 तरह की चाय मिलती है।
source: businessalligators

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *